Google adsense native ads क्या है, Native ad unit कैसे बनाये ?

दोस्त अगर आपका भी कोई website या blog है और आप एक google adsense user हैं तो आपके लिए एक खुसखबरी है | जैसा की हम जानते हैं की google adsense internet से पैसा कमाने के लिए best माध्यम है क्योकि इसमे हमे ज्यादा कुछ technical work नहीं करना पड़ता है | बस adsense account बनाया, ad unit बनाया और ad code को अपने blog में paste कर देना है, इतना करने पे ही हमारे website में adsense के ads आने लगते है और हमारा income होने लगता है  |

google इस बार adsense ads में एक update लाया है जिसका नाम है “google adsense native ads” | जैसा की हम सभी जानते हैं की google समय समय में नया नया updates लाते रहता है जिससे की advertiser के साथ साथ हमारा भी फायदा हो सके और हमारे फायदे में ही google का भी फायदा है | इस पोस्ट में हम इसी update के बारे में जानेंगे की google adsense native ads क्या है ? native ads से क्या फायदा है ? और adsense native ad unit कैसे बनाते है ? 

Google adsense native ads क्या है ?

google adsense naticve ads kya hai
native का हिंदी meaning होता है देशी और adsense ads में भी native का meaning कुछ इसी तरह का  है | native ad ऐसे ads हैं जो blog या website से मिलते जुलते, blog के contents से मिलते जुलते आयेंगे | ads का design और content के design मिलते जुलते रहेंगे |

जो चीज़ हमारे देश का होता है, जो हमारे area का होता है, जो हमसे घुला मिला होता है उसे हम देशी भी बोल देते हैं, adsense में भी same condition लागु होता है क्योकि native ads आपके content के जैसा, आपके website से घुला मिला रहेगा इसलिए ही इसे native ads यानि देशी ads नाम रखा गया है |

अब बात आती है की क्या फायदा है native ads का ? तो मै आपको clear कर दू की पहले ads आते थे वो आपके content से मिलते जुलते नहीं रहते थे इसलिए कुछ visitos
को इससे परेशानी भी   होता था, पर इस update के वजह से ads आपके content
से मिलते जुलते आयेंगे जिससे blog या website देखने में भी  आकर्षक  लगेगा,
visitors को परेशानी नहीं  होगा क्योकि उन्हें  वैसा ही ads  देखने को मिलेंगे जैसा
वो देखना चाहते है|  सबसे बड़ा फायदा ये होगा की आपका ctr बढेगा यानि आपका income increase होगा |

google 3 types के native ads लाया है-
1. In-feed
2. In-article
3. Matched content. आइए इन तीनो के बारे में जान लेते हैं-

1. In-feed native ads

इस ads को आप अपने blog or website के feeds में use कर सकते हैं example के लिए आप इसे उस जगह पे use कर सकते हैं जहा पे आपके बहुत सरे article का list होता है जैसे blog का homepage होता है | इस ad को आप अपने articles के लिस्ट के बिच में लगा दीजिए, ये ad देखने में आपके पोस्ट की तरह ही लगेगा, पर ad code बनाते समय इसे अछे से customize करना होगा |

Read:- google adsense क्या है और adsense कैसे काम करता है ?
Read:- social bookmarking क्या है ? SEO में इसका क्या फायदा है ?

2. In-article native ads

इस ad को आप अपने articles के बिच में use कर सकते हैं, इसमे आपको साइज़ choose नहीं करना है क्योकि ये atomatically आपके content में जगह के हिसाब से full-fill हो जाता है | ये ads बिलकुल आपके content से मिलता जुलता आएगा साथ ही साथ user को इससे कोई परेशानी नहीं होगा | सबसे अछि बात ये है की आप इसे अपने हिसाब से customize कर सकते हैं यानि  इसका डिजाईन change कर सकते हैं |

3. Matched content native ads

ये ads बिलकुल आपके article से matched होता है  यानि इसमे आपके article के lists के साथ साथ ads भी show होता है, इसे आप अपने articles के last में लगा सकते हैं |

matched content ads में जो भी articles के लिस्ट आते हैं वो visitors के interest के हिसाब से default ही आते हैं इससे फायदा ये भी होता है की user ज्यादा समय तक आपके site पे रहेगा जिससे bounce rate decrease होगा |

google adsense native ads unit कैसे बनाये ?

आप अगर पहले से adsense user हैं तो आपको तो पता ही होगा की adsense में ad unit कैसे बनाते है ?  so native ad unit भी बनाना  उसी तरह से आसान है | आप निचे दिए हुवे कुछ easy steps follow कर सकते हैं-

Step.1 सबसे पहले अपने adsense account से log in कीजिए |

step.2 left side में nevigation पे click करके my ads पे click कीजिए और फिर ads unit पे click कीजिए |

step.3  +new ad unit पे click कीजये |

step.4 यहाँ पे आपको 3 तरह के native ads मिलेंगे( अगर आपका adsense account ज्यादा पुराना नहीं है तो हो सकता है की सिर्फ 2 native ads show होंगे यानि matched content वाला नहीं होगा) आप जो ad unit बनाना चाहते हैं उसपे click कीजिए |
adsense native ads

step.5 अब आपको ad unit का नाम देना है और ads को customize करके save and get code पे click करना है | और जो code मिला use अपने blog or website में लगाना है | इस तरह से आपके blog में native ads show होने लगेगा |

So friend ये थे कुछ google adsense के updates, अगर आप adsense के बारे में और भी जानना चाहते हैं तो हमारे adsense category के पोस्ट पढ़ सकते हैं |

नमस्कार दोस्त, HindiGyanMafia पे आपका स्वागत है |

नए पोस्ट की जानकारी Email द्वारा पाने के लिए कृपया Subsribe कीजिये |

3 Comments

  1. Sunil Joon 11/07/2017

Leave a Reply